भारत में छीड़ा राजनितिक युद्ध। विपक्ष ने मोदी पर लगाया आरोप।

Image result for bjp congress indian armyनमस्कार दोस्तों,

दोस्तों, पुलवामा हमले के बाद सेना ने जबसे से पाकिस्तान के आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक किया है तभी से भारत और पाकिस्तान के बीच काफी बढ़ता जा रहा है। एक और जहां बॉर्डर पर हमारे जवान आतंकियों से मुठभेड़ में रोज शहीद हो रहे हैं। वहीँ पाकिस्तान की सेना भी लगातार सीज फायर का उल्लंघन करके देश में युद्ध का माहौल बना दिया है।
पुलवामा हमले का जवाब देते हुए जबसे भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान के आतंकी अड्डों पर एयर स्ट्राइक किया है तभी से दोनों देशों के बीच युद्ध के जैसा माहौल पैदा हो गया है। पाकिस्तान ने अपनी सीमा पर एयर स्ट्राइक की घटना से साफ़ इंकार किया है और कहा है की मोदी सरकार लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करने के लिए अपने देश की सेना का स्तेमाल कर रहे हैं और मीडिया में झूठी खबर फैला रहे हैं।
हमारे लिए बड़े शर्म की बात है की हमारे अपने ही विपक्ष के कुछ नेता पाकिस्तान के प्रधान मंत्री इमरान खान के शुर से शुर मिलते नज़र आ रहे हैं। इन विपक्षी पार्टी के नेताओं ने भी एयर स्ट्राइक पर अविश्वास करते हुए सेना और मोदी से इस एयर स्ट्राइक के सबूत तक मांग डाले। देश के लिए यह शर्म की बात है की हमारे देश के विपक्षी नेता अपने राजनितिक फायदे के लिए हर दिन ऐसे बात बोल रहे हैं जिससे पाकिस्तान को मजबूती मिल रही है और हमारे सेना का मनोबल कमज़ोर किया जा रहा है। पाकिस्तान की सरकार एयर स्ट्राइक का सबूत मांग कर अपने देश और अपने सम्मान की रक्षा कर रहा है पर हमारे देश के विपक्षीय नेता क्यों इमरान खान को खुस करने वाली बात कर रहे हैं यह समझ से परे है।
अगर विपक्ष के नेताओं में थोड़ी सी भी अक्ल होती तो वे इस एयर स्ट्राइक के सबूत को अब तक देख चुके होते जो खुद पाकिस्तान की सेना और उसके आतंकी आकाओं ने दे दिए हैं। आइये देखते हैं इस एयर स्ट्राइक के वो साबुत जो खुद पाकिस्तान ने दे दिए हैं…. .. …
1 . पाकिस्तान पर यदि एयर स्ट्राइक हुआ ही नहीं तो फिर पाकिस्तान की सेना किस बात का बदला लेने के लिए 27 फरवरी को भारत की सीमा में घुसकर भारत के आर्मी कैम्पों पर हमला करने की कोशिश की।
2. यदि पाकिस्तान में कोई एयर स्ट्राइक हुआ ही नहीं तो फिर क्यों आतंकी हाफ़िज़ शहीद चीख चीख कर पाकिस्तान की जनता से कह रहा है की। इमरान खान ने पूरी दुनिया में पाकिस्तान को बेइज्जत कर दिया है। जिस भारत ने पाकिस्तान के मदरसों (आतंकी कैंपों ) पर सीमा के अंदर घुसकर हमला किया उस भारत से शांति की अपील करके और उसके विंग कमांडर अभिनन्दन वर्धमान को रिहा करके पाकिस्तान को कहीं मुँह दिखने लायक नहीं छोड़ा। यह उस आतंकी हाफ़िज़ सईद ने कहा है जिसकी पाकिस्तान पर असली हुकूमत है।
इन दोनों बातों से यह साफ़ हो जाता है की भारत की सेना ने सच में पाकिस्तान के भीतर घुसकर वहां के तमाम आतंकी ठिकानों पर हमला करके उन्हें नष्ट कर दिया है जैसा की भारत की सेना एवं सरकार कह रही है। विपक्ष के नेताओं को इस बात का ध्यान का रखना चाहिए की इस तरह के राजनितिक युद्ध से देश की जनता और सेना का मनोबल टूट रहा है। सेना के शौर्य पर शक करने का मतलब सेना का अपनमान करना है यह बात विपक्ष को समझना चाहिए।
पर ऐसा नहीं है की केवल विपक्ष ही इस मुद्दे पर राजनीति करना चाहती है। विपक्ष से पहले खुद मोदी सरकार ने सेना के इस पराक्रम को अपना पराक्रम बताकर देश की सेना का अपमान किया है और अपने राजनितिक फायदे के लिए सेना का इस्तेमाल किया है। जब देश की मान पर आंच आती है तो यह सेना का काम है की वह देश की सीमा की रक्षा करें। देश के लिए शहादत सेना देती है इसलिए इसका पूरा श्रेय भी सेना को ही मिलना चाहिए पर मोदी सरकार ने हर बार सेना के पराक्रम का अपने फायदे के लिए स्तेमाल करने का कोशिश किया है। एयर स्ट्राइक के बाद बीजेपी पार्टी का नया स्लोगन मोदी है तो मुंकिन है से यह साफ़ झलकता है की मोदी जनता के बीच यह सन्देश पहुंचा रहे हैं की पाकिस्तान को देश की सेना ने नहीं बल्कि मोदी ने सबक सिखाया है। और इसी बात का प्रचार बीजेपी के सभी बड़े नेता एवं प्रवक्ता मीडिया और चुनावी रैली में लगातार कर रहे हैं।
देश की जनता से मेरा अनुरोध है की किसी पार्टी को शहीदों की शहादत और पराक्रम का श्रेय न दें और नेताओं के बहकावे आएं। यदि आपने अभी तक मुझे फॉलो /सब्सक्राइब नहीं किया है तो अभी कर दें धन्यवाद्। 

1 thought on “भारत में छीड़ा राजनितिक युद्ध। विपक्ष ने मोदी पर लगाया आरोप।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *